बुधवार, 1 अगस्त 2012

रक्षा का बंधन,,,,




रक्षा
का बंधन


बचपन से लेकर , आज तक तुमको
मायके से लेकर ससुराल तक तुमको

नही भूली मै राखी का त्यौहार भईया,

दिल से जुड़ेते ये प्रेम के धागे
रक्षा का बंधन सिर्फ रक्षा मांगे

मुझे नही चाहिए कोई उपहार भईया,

मुसीवत में भाई एक सहारा
बहना को लगे भाई ध्रुवतारा

मुझे मिलता रहे ऐसे ही दुलार भईया,

रेशम की डोर का ये पक्का रिश्ता
अहसासों का प्यार कहाँ है मिलता

इसे समझो ना रेशम का तार भईया,

मुझको हमेशा याद करते रहना
राखी में तुम्हारी राह तके बहना


मेरी राखी का मतलब है प्यार भईया,



Rakhi scraps, greetings, wishes


dheerendra,bhadauriya

55 टिप्‍पणियां:

  1. उत्कृष्ट प्रस्तुति शुक्रवार के चर्चा मंच पर ।।

    उत्तर देंहटाएं
  2. रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामना... कविता बढ़िया बनी है...

    उत्तर देंहटाएं
  3. इस स्‍नेहिल पर्व की अनंत शुभकामनाएं ... बहुत ही अच्‍छी प्रस्‍तुति।

    उत्तर देंहटाएं
  4. प्यारी रचना.....
    हार्दिक शुभकामनाएं.

    सादर
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  5. रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनाये...

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत प्यारी रचना ...
    रक्षा बंधन की अनेक शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  7. रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनाएं .

    उत्तर देंहटाएं
  8. सुन्दर प्रस्तुति…………रक्षाबंधन की शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  9. सुन्दर काव्य रचना के लिए आपका आभार !!

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत प्यारी रचना
    रक्षा बंधन की ढेरो शुभकामनाये
    :-)

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत सुंदर राखी है बनाई मेरे भेया !

    उत्तर देंहटाएं
  12. मुसीवत में भाई एक सहारा
    बहना को लगे भाई ध्रुवतारा

    सच्ची .... रचना दिल को छू गई ....

    उत्तर देंहटाएं
  13. बहुत ही प्यारी कविता, पर्व की शुभकामनायें..

    उत्तर देंहटाएं
  14. एक लंबे समय बाद आपकी कविता पढ़ने को मिली.. वही माधुर्य बरकरार है!!

    उत्तर देंहटाएं
  15. शुभकामनाये | इस प्रेममयी बंधन को एक भाई को भुलाना बड़ा ही मिश्किल होता है |
    मेरे ब्लॉग को जरुर पढ़े...
    http://gorakhnathbalaji.blogspot.com/2012/08/blog-post.html

    उत्तर देंहटाएं
  16. अच्छी कविता ...बधाई रक्षा बंधन की...

    उत्तर देंहटाएं
  17. बहुत ही प्यारी रचना,
    भाई बहन के प्यार को समेटे हुए ..
    रक्षाबंधन की बधाई व शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  18. भाई बहन के स्नेह का बंधन बहुत स्नेह से समेटा है .... पर्व की शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  19. रेशम की डोर का ये पक्का रिश्ता
    अहसासों का प्यार कहाँ है मिलता

    इसे समझो ना रेशम का तार भईया,

    बहुत ही खुबसूरत रचना लिखी है.ख़ास कर उपरोक्त लाईने बहुत अच्छी लगीं.आपको भी रक्षा बंधन की ढेरों शुभकामनाये.



    मोहब्बत नामा
    मास्टर्स टेक टिप्स

    उत्तर देंहटाएं
  20. शब्द नहीं है व्यक्त करने के लिए....!
    सादर !

    उत्तर देंहटाएं
  21. बहना ने भाई के कलाई से डोर बांधा हे यह डोर नही दिल से प्‍यार बांध है आपको इस पर्व की शुभकामनाये
    यूनिक तकनीकी ब्लाग

    उत्तर देंहटाएं
  22. सुन्दर रचना .
    रक्षाबंधन की शुभकामनायें .

    उत्तर देंहटाएं
  23. बहुत ही खुबसूरत रचना लिखी है.........
    रक्षाबंधन की बधाई व शुभकामनाएँ.......

    उत्तर देंहटाएं
  24. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
    श्रावणी पर्व और रक्षाबन्धन की हार्दिक शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  25. बहुत सुन्दर काव्यमय प्रस्तुति भाई बहन के अमित प्यार की मेरी राखी का मतलब है प्यार भईया, .सखी सहेली सब जुड़ आईं
    हिल मिल खूब मल्हारें "गाईं"कर लें.शुक्रिया .इस पर्व पर बहिन, भाई के अन्दर पिता का निस्स्वार्थ छाता, और भैया, माँ को ढूंढता है कहतें हैं जो भाई अपनी बहन से बहुत रागात्मक सम्बन्ध बनाए रहतें हैं उनके साथ स्नेहिल बने रहतें हैं उन्हें हार्ट अटेक नहीं पड़ता ,दिल की बीमारियों से बचाता है माँ के जाने के बाद बहन का प्यार .रक्षा बंधन मुबारक -झूमें ये सावन सुहाना ,भैया मेरे राखी के बंधन को निभाना ,शायद वो सावन भी आये ,जो पहले सा रंग न लाये, बहन पराये देश बसी हो ,अगर वो तुम तक पहुँच न पाए ,झूमें ये सावन सुहाना ...इस गीत की मिसरी बचपन में ले जाती है .छोटी बहन का यह गीत आज भी उतना ही मीठा लगता है जितना "चंदा मामा दूर के ,पुए पकाए बूर के ,आप खाएं प्याली में ,मुन्ने को दें ,प्याली में ..

    उत्तर देंहटाएं
  26. रक्षा बंधन के पावन पर्व पर हार्दिक शुभकामनायें.

    सुंदर और स्नेह भरी रचना.

    उत्तर देंहटाएं
  27. स्नेह भरी पंक्तियाँ ....शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  28. वाह: बहुत ही स्नेह से पूर्ण प्यारी सी कविता..आभार...

    उत्तर देंहटाएं
  29. बहुत ही प्यारी रचना .......दुनिया में शायद ही किसी देश में भाई-बहन के प्यार को त्यौहार की तरह मनाया जाता है . राखी पर्व की शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  30. सुंदर भाव भरी रचना...
    रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनायें...
    सादर।

    उत्तर देंहटाएं
  31. बहुत प्यारी भावमय रचना...

    उत्तर देंहटाएं
  32. नही भूली मै राखी का त्यौहार भईया,

    सारे जहाँ का प्यार समेट कर उड़ेल दिया बहुत खुबसूरत भावों से सजी रचना

    उत्तर देंहटाएं
  33. बहुत ही सुन्दर भावनाओं से औत प्रोत रक्षा बंधन के उपलक्ष में रचा गीत कुछ व्यस्तता के कारण ब्लोग्स पर पर आना कम हो रहा था

    उत्तर देंहटाएं
  34. वाह... बहुत ही अच्छा लिखा है...

    उत्तर देंहटाएं
  35. भाई-बहन के पावन स्नेह से भरी सुन्दर रचना...राखी की शुभकामनाएं...

    उत्तर देंहटाएं
  36. भाई के लिए स्नेह, आदर, सम्मान सब कुछ समेटती बहुत प्यारी रचना...
    देर से ही....राखी की हार्दिक शुभकामनाएँ !!!

    उत्तर देंहटाएं
  37. भावमयी प्रस्तुति. रक्षाबंधन की आपको भी हार्दिक शुभकामनायें.

    उत्तर देंहटाएं
  38. आपकी कविता मन को छू जाती है। वास्तव में अच्छा लिखते हैं । मेरे पोस्ट पर आकर मुझे प्रेत्साहित करना अच्छा लगा। धन्यवाद।

    उत्तर देंहटाएं
  39. भाई बहन के प्रेम को सुन्दर शब्दों का सार दिया है ... भावमय प्रस्तुति ...
    रक्षा बंधन की बधाई ...

    उत्तर देंहटाएं
  40. dheerendra ji bahut sundar lagi aapki rachna shuruaat hi bahut khoobsurat hui hai aur ham bhavo me bahate chale gaye ....sundar umda rchna ki badhai aapko

    उत्तर देंहटाएं
  41. खूबसूरत प्यारी सी प्रस्तुति.

    आभार और शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  42. बहुत ही खूबसूरत प्रस्‍तुति।

    उत्तर देंहटाएं
  43. बहुत प्यारी रचना,, रक्षाबंधन की आपको भी हार्दिक शुभकामनायें... !!

    उत्तर देंहटाएं
  44. मेरी राखी का मतलब है प्यार भईया, sach kaha aapne ,jinke bhaai nahi hai wo ye bakhubi samjh sakti hai ....man ko chhuti huyee rachna....

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ मेरे लिए अनमोल है...अगर आप टिप्पणी देगे,तो निश्चित रूप से आपके पोस्ट पर आकर जबाब दूगाँ,,,,आभार,