मंगलवार, 5 जून 2012

स्वागत गीत,,,,,dheerendra,"dheer"


Friends18.com Orkut Scraps
- स्वागत गीत -

आप आये यहाँ पर शत शत नमन
खिल उठा आज जैसे बसंती चमन
हाथ पुष्पों की माला लिये हम खड़े
कर रहे आपका स्वागतम स्वागतम,

आप आये यहाँ पर शत शत नमन
कर रहे आपका स्वागतम स्वागतम,

आज धरती खुशी से हरी हो गई
रंग वाली तितलियाँ परी हो गई
पादपो की झुकी डालियों पे विहंग
बैठकर गा उठी स्वागतम स्वागतम

आप आये यहाँ पर शत -शत नमन
कर रहे आपका स्वागतम स्वागतम,

नीले आकाश से फूल झरने लगे
चाँद तारे गगन में विचरने लगे
बज उठी आज आनन्द की बासुरी
स्वर निकलने लगे स्वागतम स्वागतम,

आप आये यहाँ पर शत शत नमन
कर रहे आपका स्वागतम स्वागतम,

आपके आने से खुश है दोनों जहाँ
आज पुलकित हुआ है जन-जन यहाँ
सबके मन में हिलोर सी उठने लगी.
"धीर"भी गा उठा स्वागतम स्वागतम,,

आप आये यहाँ पर शत -शत नमन
कर रहे आपका स्वागतम स्वागतम,

dheerendra,"dheer"

60 टिप्‍पणियां:

  1. आज धरती खुशी से हरी हो गई
    रंग वाली तितलियाँ परी हो गई.... वाह! बढ़िया भाव...
    सुंदर गीत...
    सादर।

    उत्तर देंहटाएं
  2. आप बस सक्रिय रहिए। हम तो हैं ही स्वागत के लिए तैयार।

    उत्तर देंहटाएं
  3. आप आये यहाँ पर शत -शत नमन
    कर रहे आपका स्वागतम स्वागतम,
    badhiya git ......

    उत्तर देंहटाएं
  4. इतने काव्यभरे और सरसमय स्वागत का ढेरों आभार..

    उत्तर देंहटाएं
  5. नीले आकाश से फूल झरने लगे
    चाँद तारे गगन में विचरने लगे
    बज उठी आज आनन्द की बासुरी
    स्वर निकलने लगे स्वागतम स्वागतम,....lajabab

    उत्तर देंहटाएं
  6. वाह! बहुत बढ़िया भाव...
    सुन्दर गीत...आभार

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत सुन्दर स्वागत गीत

    उत्तर देंहटाएं
  8. आज धरती खुशी से रंगीन हो गयी
    बहुत सुन्दर पंक्ति |
    सुन्दर अभिव्यक्ति

    उत्तर देंहटाएं
  9. आपके आने से खुश है दोनों जहाँ
    आज पुलकित हुआ है जन-जन यहाँ
    सबके मन में हिलोर सी उठने लगी.
    "धीर"भी गा उठा स्वागतम स्वागतम,,

    सुंदर पंक्तियाँ ।

    उत्तर देंहटाएं
  10. ये किसकी आहट है , ये कौन आया की खिल उठा सारा जहाँ !
    सुस्वागतम !

    उत्तर देंहटाएं
  11. आज धरती खुशी से हरी हो गई
    रंग वाली तितलियाँ परी हो गई
    पादपो की झुकी डालियों पे विहंग
    बैठकर गा उठी स्वागतम स्वागतम

    बहुत सुन्दर स्वागत गीत...

    उत्तर देंहटाएं
  12. धन्यवाद जी! स्वागत में पलक-पांवड़े बिछाने के लिए।

    उत्तर देंहटाएं
  13. bahut hi sundartaa se aapane swaagat kiyaa, man prafullit sa ho gaya

    उत्तर देंहटाएं
  14. बहुत ही सुन्दर पंक्तियाँ !

    उत्तर देंहटाएं
  15. bahut hi sundar swagat geet hai aur mai ise apni dayri me note kar li hu-----------aabhar

    उत्तर देंहटाएं
  16. बहुत ही सुन्‍दर शब्‍दो में अतिथि सत्‍कार किया है

    युनिक तकनीकी ब्‍लाग

    उत्तर देंहटाएं
  17. इस स्वागत गीत का हार्दिक स्वागत है.

    उत्तर देंहटाएं
  18. स्वागतम स्वागतम बढ़िया है स्वागतम .शुक्रिया ब्लॉग दस्तक के लिए भाई साहब .

    उत्तर देंहटाएं
  19. वाह...इतना सुंदर स्वागत ! अब तो रोज रोज आना पड़ेगा...आभार!

    उत्तर देंहटाएं
  20. बढ़िया भाव...
    सुंदर गीत...

    उत्तर देंहटाएं
  21. आज धरती खुशी से हरी हो गई
    रंग वाली तितलियाँ परी हो गई

    ...बहुत सुन्दर भावमयी अभिव्यक्ति....

    उत्तर देंहटाएं
  22. बहुत बढ़िया स्वागत गीत इतने बढ़िया स्वागत के लिए आभार...

    उत्तर देंहटाएं
  23. मान्यवर,
    आज से 27 वर्ष पूर्व मैंने भी एक स्वागत गीत लिखा था। आपने उस गीत की बहुत बढ़िया पैरोडी बनाई है।
    बहुत-बहुत धन्यवाद।
    --
    पूरा गीत यह है-
    बृहस्पतिवार, 7 मई 2009
    "स्वागत गीत" (डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')
    लगभग 24 वर्ष पूर्व मैंने एक स्वागत गीत लिखा था।
    इसकी लोक-प्रियता का आभास मुझे तब हुआ, जब खटीमा ही नही
    इसके समीपवर्ती क्षेत्र के विद्यालयों में भी इसको विशेष अवसरों पर गाया जाने लगा।
    आप भी देखे-
    स्वागतम आपका कर रहा हर सुमन।
    आप आये यहाँ आपको शत नमन।।

    भक्त को मिल गये देव बिन जाप से,
    धन्य शिक्षा-सदन हो गया आपसे,
    आपके साथ आया सुगन्धित पवन।
    आप आये यहाँ आपको शत नमन।।

    हमको सुर, तान, लय का नही ज्ञान है,
    गल्तियाँ हों क्षमा हम तो अज्ञान हैं,
    आपका आगमन, धन्य शुभ आगमन।
    आप आये यहाँ आपको शत नमन।।

    अपने आशीश से धन्य कर दो हमें,
    देश को दें दिशा ऐसा वर दो हमें,
    अपने कृत्यों से लायें, वतन में अमन।
    आप आये यहाँ आपको शत नमन।।

    दिल के तारों से गूँथे सुमन हार कुछ,
    मंजु-माला नही तुच्छ उपहार कुछ,
    आपको हैं समर्पित हमारे सुमन।
    आप आये यहाँ आपको शत नमन।।

    स्वागतम आपका कर रहा हर सुमन।
    आप आये यहाँ आपको शत नमन।।
    स्वागतम-स्वागतम, स्वागतम-स्वागतम!!

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. मैंने पैरोडी तो नही बनाई,यह मात्र एक संयोग है,,,,,वैसे आपकी रचना बहुत ही बढ़िया है, रचना की जानकारी देने के लिये बहूत२ आभार

      हटाएं
  24. स्वागतम स्वागतम... बहुत सुन्दर रचना. रूपचन्द्र जी का भी स्वागतम स्वागतम. एक ही लय के दो मधुर गीत पढ़ने को मिले. शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  25. भावविभोर करता स्वागत गीत.........बहूत-२ आभार

    उत्तर देंहटाएं
  26. आप आये यहाँ पर शत शत नमन
    कर रहे आपका स्वागतम स्वागतम,

    वाह!....बहुत सुन्दर गीत.

    उत्तर देंहटाएं
  27. गुनगुनाता हुआ सा गीत ....बहुत बढिया

    उत्तर देंहटाएं
  28. आप आये यहाँ पर शत शत नमन
    कर रहे आपका स्वागतम स्वागतम.....
    बहुत सुन्दर !आभार

    उत्तर देंहटाएं
  29. स्वागत स्वागतम बहुत सुंदर गीत ।

    उत्तर देंहटाएं
  30. आप के स्वागत का अंदाज़ बहुत पसंद आया !
    आभार!

    उत्तर देंहटाएं
  31. बहुत सुन्दर स्वागत गीत है। आभार

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. Bade dino baad aapke blog pe aayee hun! Rachana sadagee aur apnepanse bharpoor hai....behad achhee!

      हटाएं
  32. सुन्दर गीत है । आपने किसके स्वागत में लिखा है यह तो पता नही पर किसी के भी सम्मान में गाए जाने के लिये बहुत सुन्दर है ।

    उत्तर देंहटाएं
  33. आपके आने से खुश है दोनों जहाँ
    आज पुलकित हुआ है जन-जन यहाँ
    सबके मन में हिलोर सी उठने लगी.
    "धीर"भी गा उठा स्वागतम स्वागतम,,


    बहुत सुन्दर !आभार

    उत्तर देंहटाएं
  34. आप आये यहाँ पर शत शत नमन
    खिल उठा आज जैसे बसंती चमन
    हाथ पुष्पों की माला लिये हम खड़े
    कर रहे आपका स्वागतम स्वागतम,

    लाजवाब । मेर नए पोस्ट पर आपका इंतजार रहेगा । धन्यवाद ।

    उत्तर देंहटाएं
  35. ऐसा स्वागत हो तो बार बार आने को जी चाहेगा ही......
    भावविभोर हो गए....


    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  36. आपके आने से खुश है दोनों जहाँ
    आज पुलकित हुआ है जन-जन यहाँ
    सबके मन में हिलोर सी उठने लगी.
    "धीर"भी गा उठा स्वागतम स्वागतम,,
    मनभावन स्वागत गीत

    उत्तर देंहटाएं
  37. बहुत अच्छा लिखा है यह स्वागत गीत.

    उत्तर देंहटाएं
  38. वाह, दो-दो स्वागत-गीत पढ़ने को मिले - बहुत सुन्दर दोनों ही !

    उत्तर देंहटाएं
  39. नीले आकाश से फूल झरने लगे
    चाँद तारे गगन में विचरने लगे
    बज उठी आज आनन्द की बासुरी
    स्वर निकलने लगे स्वागतम स्वागतम,..

    वाह ... स्वागत है इस लाजवाब स्वागत गीत का ... गेयता लिए बहुत ही मधुर गीत ... बधाई हो ...

    उत्तर देंहटाएं
  40. बहुत बेहतरीन रचना....
    मेरे ब्लॉग पर आपका हार्दिक स्वागत है।

    उत्तर देंहटाएं
  41. नीले आकाश से फूल झरने लगे
    चाँद तारे गगन में विचरने लगे
    बहुत ही बढ़िया प्रस्तुती, मन प्रफुल्लित हो गया

    उत्तर देंहटाएं
  42. इतने खूबसूरत स्वागत के लिए धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  43. बहुत खूब पंक्तियाँ ...
    "आज धरती खुशी से हरी हो गई
    रंग वाली तितलियाँ परी हो गई "
    आनंद प्रदान करने वाली स्वागत गीत, स्वागत कविता

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ मेरे लिए अनमोल है...अगर आप टिप्पणी देगे,तो निश्चित रूप से आपके पोस्ट पर आकर जबाब दूगाँ,,,,आभार,