शुक्रवार, 19 अप्रैल 2013

प्यार में दर्द है,




प्यार में दर्द है,
 
प्यार में दर्द है ,दर्द से प्यार है,न कहीं जीत है न कहीं हार है 

 
 वो सनम  जब यहाँ  बेवफा हो गया 
 टुकड़े-टुकड़े जिगर के मेरे कर गया,
 हँस  के मैंने  उसे बस  यही था कहा 
 तू  मेरा  प्यार  है ,वो  तेरा  प्यार है! 

 
प्यार में दर्द है ,दर्द से प्यार है,न कहीं जीत है न कहीं हार है!

 
 सबके ल तर यहाँ जाम खाली नही
 नजरें साकी की मुझपे इनायत नहीं,

फांसले  जब  बढे  मैंने  इतना  कहा
 क्या  यही जीत  है  क्या यही हार है!

 
प्यार में दर्द है ,दर्द से प्यार है,न कहीं जीत है न कहीं हार है!

 
प्यार  को रूप  रंगत से मतलब नही
 प्यार को सोने चाँदी की दरकत नही,
 उनके  सौदाईपन  पे  किसी  ने कहा 

    इस्क की जीत  है, हुश्न  की  हार  है!   
 
प्यार में दर्द है ,दर्द से प्यार है,न कहीं जीत है न कहीं हार है!

 
 प्यार के नाम पर,तुम ये क्या कर गये 
  नाम  लेके   वफा  का  जफा  कर  गये, 
 उनके  दिल से मेरे दिल ने इतना कहा 
  न  तेरी   जीत   है  , न   मेरी   हार  है! 

 
प्यार में दर्द है ,दर्द से प्यार है,न कहीं जीत है न कहीं हार है!


 dheerendra singh bhadauriya

69 टिप्‍पणियां:

  1. सच में... प्यार में दर्द बहुत है...
    पर इस दर्द में भी बहुत प्यार है...

    बहुत सुंदर अभिव्यक्ति :)

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत बढ़िया रचना जनाब | आभार

    अत्यंत सुन्दर और भावपूर रचना विकेश भाई | शुक्र है किसी ने तो सोचा ऐसों के बारे में | ईश्वर उन्हें शांति प्रदान करे | आभार

    कभी यहाँ भी पधारें और लेखन भाने पर अनुसरण अथवा टिपण्णी के रूप में स्नेह प्रकट करने की कृपा करें |
    Tamasha-E-Zindagi
    Tamashaezindagi FB Page

    उत्तर देंहटाएं
  3. Wah...behtarin rachna,'pyar me dard hai,dard se pyar hai' lajvab shubhkamnayen

    उत्तर देंहटाएं
  4. दिल की आवाज़ को शब्दों में पिरोया गया है. एक सुंदर अभिव्यक्ति.

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत बढ़िया रचना जनाब | आभार

    कभी यहाँ भी पधारें और लेखन भाने पर अनुसरण अथवा टिपण्णी के रूप में स्नेह प्रकट करने की कृपा करें |
    Tamasha-E-Zindagi
    Tamashaezindagi FB Page

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत अच्छे रचना ... गेय ....

    उत्तर देंहटाएं
  7. .भावात्मक अभिव्यक्ति ह्रदय को छू गयी आभार रामनवमी की बहुत बहुत शुभकामनायें औरत की नज़र में हर मर्द है बेकार . .महिला ब्लोगर्स के लिए एक नयी सौगात आज ही जुड़ें WOMAN ABOUT MANजाने संविधान में कैसे है संपत्ति का अधिकार-2

    उत्तर देंहटाएं
  8. आपकी यह बेहतरीन रचना शनिवार 20/04/2013 को http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जाएगी. कृपया अवलोकन करे एवं आपके सुझावों को अंकित करें, लिंक में आपका स्वागत है . धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  9. प्यार के रूप कई
    सब अनोखे निराले
    महिमा अपरम्पार .
    सादर ....

    उत्तर देंहटाएं
  10. सुन्दर प्रस्तुति-
    आभार आदरणीय ||

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत सुन्दर गीत,,,,
    भावपूर्ण रचना..

    सादर
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  12. pyaar ka anat aakash hai ...pyaar me gam beshumar hai ....badhiya shabd chitran pyaar ka .....

    उत्तर देंहटाएं
  13. प्यार में दर्द है ,दर्द से प्यार है ,न कहीं जीत है न कहीं हार है..

    बहुत सुन्दर....बेहतरीन प्रस्तुति !!
    पधारें बेटियाँ ...

    उत्तर देंहटाएं
  14. अत्यंत सुन्दर और भावपूर रचना ,राम नवमी की शुभकामनाएं
    latest post तुम अनन्त

    उत्तर देंहटाएं
  15. प्यार में दर्द है ,दर्द से प्यार है ,न कहीं जीत है न कहीं हार है

    नमस्कार!
    बहुत ही प्यारी सी रचना.

    उत्तर देंहटाएं
  16. बहुत बढ़िया रचना .......... आभार

    उत्तर देंहटाएं
  17. आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा शनिवार (20 -4-2013) के चर्चा मंच पर भी है ।
    सूचनार्थ!

    उत्तर देंहटाएं
  18. प्यार में दर्द है ,दर्द से प्यार है ,न कहीं जीत है न कहीं हार है
    kya baat hai ..

    उत्तर देंहटाएं
  19. प्यार के नाम पर,तुम ये क्या कर गये
    नाम लेके वफा का जफा कर गये,
    उनके दिल से मेरे दिल ने इतना कहा
    न तेरी जीत है , न मेरी हार है!

    बहुत ही प्यारी रचना

    उत्तर देंहटाएं
  20. आपको रामनवमीं की हार्दिक शुभकामनाएं ।

    उत्तर देंहटाएं
  21. प्यार के नाम पर,तुम ये क्या कर गये
    नाम लेके वफा का जफा कर गये,
    उनके दिल से मेरे दिल ने इतना कहा
    न तेरी जीत है , न मेरी हार है!

    प्यार में दर्द है ,दर्द से प्यार है,न कहीं जीत है न कहीं हार है!

    बहुत सुंदर अभिव्यक्ति :)

    उत्तर देंहटाएं
  22. प्यार में दर्द है ,दर्द से प्यार है,न कहीं जीत है न कहीं हार है! बिलकुल सही फरमाया आपने।

    उत्तर देंहटाएं
  23. वाह ..बहुत खूब ...दर्द बिना प्यार कैसा ...:)

    उत्तर देंहटाएं
  24. बेहद खुबसूरत रचना...
    बेहद दर्द समेटे गहरे अहसास करवाती...
    लाजवाब...
    :-)

    उत्तर देंहटाएं
  25. प्यार में दर्द है ,दर्द से प्यार है,न कहीं जीत है न कहीं हार है....सुन्‍दर रचना..

    उत्तर देंहटाएं
  26. प्यार करने वाले ही जाने | प्यार असीम है |

    उत्तर देंहटाएं
  27. वाकई है मान लिया है !
    दर्द है !

    उत्तर देंहटाएं
  28. प्यार में दर्द है सच कहा । बहुत सुंदर ।

    उत्तर देंहटाएं
  29. ये जिंदगी ही प्यार है तो सब कुछ प्यार से ही तो है ...

    उत्तर देंहटाएं
  30. बहुत भावपूर्ण दिल को छूती रचना...

    उत्तर देंहटाएं
  31. शायद प्यार में पुराना दर्द उभर आया है ..पर बड़ा मीठा सा लग रहा है ..

    उत्तर देंहटाएं
  32. वो सनम जब यहाँ बेवफा हो गया
    टुकड़े-टुकड़े जिगर के मेरे कर गया,
    हँस के मैंने उसे बस यही था कहा
    तू मेरा प्यार है ,वो तेरा प्यार है!

    प्यार का अलग रूप लिए सुन्दर गीत.

    उत्तर देंहटाएं
  33. क्या कहें धीरेन्द्र जी ...इन ५६ में एक भी नहीं मिला ...बहुत सुन्दर आदि ...न कहने वाला ...पर हम तो कहे जायेंगे ...

    ---- निम्न पंक्तियों में तकनीकी एवं तथ्यात्मक आदि अशुद्धियों पर ध्यान दें .....

    वो सनम जब यहाँ बेवफा हो गया

    प्यार में दर्द है ,दर्द से प्यार है

    नजरें साकी की मुझपे इनायत नहीं,

    इस्क की जीत है, हुश्न की हार है!

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. Jara sudar bhi do maha ghani 56 ko chhodo

      हटाएं
    2. Maine inke blog me jakar inki rachana ka awlokan kiya inke lekhen me ashudiyo ki bharmar hai ap log bhi dekh sakte hai ,Wahi haal hai par updesh ushal bahutere

      हटाएं
  34. ना जीत है न हार है...प्यार बस प्यार है...जीवन सचमुच बस प्यार है...

    उत्तर देंहटाएं
  35. प्यार को रूप रंगत से मतलब नही
    प्यार को सोने चाँदी की दरकत नही,
    उनके सौदाईपन पे किसी ने कहा
    इस्क की जीत है, हुश्न की हार है!

    अत्यंत भावपूर्ण. प्यार का कोई जवाब नहीं.

    उत्तर देंहटाएं
  36. न कहीं जीत है, और न कहीं हार है
    दर्द पा-पा के क्यूं,बढ़ता ये प्यार है!

    उत्तर देंहटाएं
  37. प्यार को रूप रंगत से मतलब नही
    प्यार को सोने चाँदी की दरकत नही,
    उनके सौदाईपन पे किसी ने कहा
    इस्क की जीत है, हुश्न की हार है!

    उत्तर देंहटाएं
  38. बहुत सुंदर भाव पूर्ण अभिव्यक्ति....आभार...

    उत्तर देंहटाएं
  39. फिर भी प्यार का दर्द होता है - मीठा-मीठा।

    उत्तर देंहटाएं
  40. प्यार के नाम पर,तुम ये क्या कर गये
    नाम लेके वफा का जफा कर गये,
    उनके दिल से मेरे दिल ने इतना कहा
    न तेरी जीत है , न मेरी हार है
    बढ़िया बिम्ब संजोये हैं आपने .

    उत्तर देंहटाएं
  41. जब खुद को बेखुदी में डुबो दिया जाता है, तब निकलते हैं ऐसे बेशकीमती भाव. शब्द सरल और सहज मगर दिल को झंझोड़ कर रख देने वाले भाव.गेयता और प्रवाह ऐसा कि इसे बिना गाये/गुनगुनाए पढ़ा ही नहीं जा सकता. दिली बधाई आदरणीय धीर जी...............

    उत्तर देंहटाएं

  42. प्यार के दर्द का क्या कहना, इस दर्द का अपना ही सुख है
    आपने इस दर्द के अहसास को जगा दिया है
    सुंदर रचना
    उत्कृष्ट प्रस्तुति
    सादर



    आग्रह है पढ़ें "बूंद-
    http://jyoti-khare.blogspot.in




    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ मेरे लिए अनमोल है...अगर आप टिप्पणी देगे,तो निश्चित रूप से आपके पोस्ट पर आकर जबाब दूगाँ,,,,आभार,