शनिवार, 16 मार्च 2013

सर्वोत्तम कृषक पुरस्कार,




होती अच्छी आय,
 
   कृषि से बढ़िया जगत में , नहिं कोई व्यवसाय !  
  नहीं किसी की चाकरी , होती अच्छी आय !! 
होती अच्छी आय, सीख वैज्ञानिक नुस्खा ! 
लग जाऐ इक बार , नही फिर छूटे चस्का !!
   जग में जाड़ा घाम , कृषक सहे सन्त ऋषि से !   
नहिं कोई व्यवसाय , जगत में बढ़िया कृषि से !!

"," धीरेन्द्र सिंह भदौरिया "


कलेक्टर अनुपपुर द्वारा 26 जनवरी 2013 को
(ब्लाक) स्तरीय,सर्वोत्तम कृषक का पुरस्कार  (धीरेन्द्र सिंह भदौरिया )  लेते हुये,


पुरस्कार  स्वरूप राशि. 10.000  दस  हजार  रूपये,


ज्वाइंट डायरेक्टर शहडोल  द्वारा  15 मार्च 2013 को
जिला स्तरीय सर्वोत्तम कृषक  का पुरस्कार ( धीरेन्द्र सिंह भदौरिया ) लेते हुये,

 

कृषि वैज्ञानिक श्री मृगेन्द्र सिंह द्वारा श्रीफल शाल से सम्मानित करते हुये,
 

पुरस्कार स्वरूप राशि. 25.000, पच्चीस हजार रुपये,

 
आप सभी लोगों का समय समय पर मुझे सलाह और मार्ग- दर्शन देने के लिए बहुत बहुत आभार,,,,

श्री आशीष पाण्डेय जी,( परियोजना संचालक आत्मा ) अनूपपुर,
श्री आर.य.जामरे जी ,(उपसंचालक कृषि) अनूपपुर, 
श्री डा० मृगेन्द्र सिंह जी,( कृषि वैज्ञानिक ) शहडोल, 
श्री मती निशा सिन्हा जी,(उप परियोजना संचालक आत्मा ) 
श्री रमेश चन्द्र पुनासिया जी,( उप परियोजना संचालक आत्मा )
श्री जी.आर.मावई जी,(वरिष्ठ उद्धान विकास अधिकारी ) अनुपपुर
श्री डा० योगेश चन्द्र दीक्षित जी, ( वैटनरी जैतहरी )
श्री कल्याण सिंह जी ( नोडल अधिकारी आत्मा ) अनूपपुर,,,,
श्री एम.पी.चौधरी जी (वरिष्ट कृषि विकास अधिकारी) जैतहरी 
श्री जी.पी.चतुर्वेदी जी (ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी) जैतहरी

===========================================

बीबी बैठी मायके , होरी नही सुहाय
साजन मोरे है नही,रंग न मोको भाय..

.
उपरोक्त शीर्षक पर ,आप सभी लोगो की रचनाए आमंत्रित है,
जानकारी हेतु ये लिंक देखे...
















61 टिप्‍पणियां:

  1. नहिं कोई व्यवसाय , जगत में बढ़िया कृषि से !!

    आपको हार्दिक बधाई , शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. hardik badhai dheerendra ji bahut satik kundaliyaan bhi hai badhai dono ke liye

      हटाएं
  2. कृषक तो दुनिया का पेट भरता है...वह तो श्रेष्ठ हुआ ही...
    आप को इस पुरस्कार हेतु ढेरों बधाईयाँ.

    उत्तर देंहटाएं
  3. शुभप्रभात :)
    बहुत - बहुत बधाई !!
    सादर !!

    उत्तर देंहटाएं
  4. मनसे किया गया कोई भी कार्य सफलता अवश्य दिलाता है. बहुत बधाईयाँ. कृषि तो सर्वश्रेष्ठ है ही लेकिन जमीन होनी चाहिये.

    उत्तर देंहटाएं
  5. वाह ! बहुत ख़ुशी हुई आपको कृषि कार्यों के लिए पुरस्कार लेते देख कर |

    बहुत बहुत बधाइयाँ और शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  6. "उतम खेती ,माध्यम बान(व्यवसाय ) चाकरी (नौकरी) कुकुर निदान " कि कहावत भारत में सदियों से चली आ रही है लेकिन आज यह बदल रही है और नौकरी को सबसे निम्न और खेती को सबसे उतम माना जाता था जो आज उल्टा हो रहा है !!
    बधाई हो !!

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. कृपया मेरी टिपण्णी में "माध्यम" कि जगह "मध्यम" पढ़ा जाए !!

      हटाएं
  7. अति उत्तम आदरणीय हार्दिक बधाई व शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  8. hardik badhayee sir ji "uttam kheti,madhyam ban nisidh chakri bhikh nidan>>>

    उत्तर देंहटाएं
  9. आदिकाल से कृषि प्रथम और सर्वश्रेष्ट व्यवसाय रहा है ,बाकी व्यवसाय तो बाद में आया है .आपको बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएं .

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत बहुत शुभकामनाएँ ....

    उत्तर देंहटाएं
  11. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  12. मुबारक हो की आज ये पता चला की आप एक अच्छे ब्लोगर के साथ एक अच्छे किसान भी हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  13. बहुत बहुत बधाई आप को..आज ही पता चला आप अच्छे लेखक के साथ अच्छे किसान भी हैं

    उत्तर देंहटाएं
  14. ब्लॉगिंग के साथ-साथ देश के विकास में भी आपका योगदान है :)

    सम्मान के लिए हार्दिक बधाई।

    उत्तर देंहटाएं
  15. वाह !!!! बहुत-बहुत बधाइयाँ.....

    एक ही हाथ से हल और कलम को साधना, किसी साधना से कम नहीं है.

    उत्तर देंहटाएं
  16. खेती किसानी पे बढ़िया पोस्ट बढ़िया उपलब्धि किसानी में .बधाई सामान से नवाजे जाने पर हम भी गौरवान्वित हुए आपके संग .पुनश्चय बधाई .

    उत्तर देंहटाएं
  17. वाह जी वाह ... बहुत बहुत बधाई ...
    कृषक तो देश का गौरव है .. वो नहीं तो भोजन नहीं ...
    आप तप कलम ओर धरती दोनों की साधना कर रहे हैं ...

    उत्तर देंहटाएं
  18. बहुत बहुत बधाइयाँ और शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  19. बहुत बहुत बधाइयाँ और शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  20. इस पुरस्कार हेतु ढेरों बधाईयाँ....!

    उत्तर देंहटाएं
  21. मेरी और से हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई |
    आशा

    उत्तर देंहटाएं
  22. आपको शतशत बधाईयाँ, कृषि और कृषक को मान दिलाया है आपने।

    उत्तर देंहटाएं
  23. बहुत बहुत बधाई..होली की अग्रिम शुभकामनायें..

    उत्तर देंहटाएं
  24. हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  25. वाह वाह sir बहुत बहुत बधाई आपको
    वाकई किसी कि चाकरी करने कि जरुरत नहीं कृषक को
    किसान तो अन्नदाता है बाकि सबका

    उत्तर देंहटाएं
  26. बहुत सुंदर .बेह्तरीन अभिव्यक्ति.शुभकामनायें.

    उत्तर देंहटाएं
  27. जिला स्तरीय सर्वोत्तम कृषक का पुरस्कार प्राप्त करने पर आपको हार्दिक बधाई एवं शुभकामनायें ...

    उत्तर देंहटाएं
  28. बहुत- बहुत बधाई सहित अनंत शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  29. कृषि से बढ़िया जगत में , नहिं कोई व्यवसाय !
    सम्मान करे सभी जन और अन्नदाता कहलाए!!


    आपको हार्दिक बधाई , शुभकामनायें

    सुज्ञ: तनाव मुक्ति के उपाय

    उत्तर देंहटाएं
  30. बधाई और शुभकामनाएं,महोदय,
    कृषि के साथ लेखन सुखद जानकारी......
    साभार........

    उत्तर देंहटाएं
  31. hardik badhayee aur krishi ke prati prerna kodedipyman karti prastuti

    उत्तर देंहटाएं
  32. बहुत बहुत शुभकामनायें....

    उत्तर देंहटाएं
  33. सर्वोत्तम कृषक का पुरस्कार प्राप्त करने पर आपको हार्दिक बधाईयां, यदि कृषक ना हो तो भूखों मरने की नौबत आ जाय, कृषक तो माता समान है जो स्वयं मेहनत करके दूसरों का पेट पालता है, बहुत शुभकामनाएं.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  34. पुरस्कार प्राप्ति पर हार्दिक बधाई...शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  35. पुरस्कार के लिए बहुत बहुत बधाई.

    उत्तर देंहटाएं
  36. पुरस्कार के लिए हार्दिक बधाई। कृषि वास्तव में बेहतरीन व्यवसाय है। कृषि में आपके प्रयास अन्य जन का भी मार्गदर्शन करें।

    उत्तर देंहटाएं
  37. वाह.....
    बहुत बहुत बधाई.....
    आपके खेत देखने की तमन्ना हो चली...

    सादर
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  38. बहुत-बहुत बधाई .....इस बार खेतों पे आ कर दाल के पके आम खाने की इच्छा अचानक ही बलवती हो उठी है :)

    उत्तर देंहटाएं
  39. हार्दिक बधाई- आपने जो किया वह बहुतों के लिए अनुकरणीय है. कागज़ पर अक्षरों के अंकन के साथ आपने धरती पर भी हल के फल से(प्रतीकात्मक-चाहे ट्रेक्टर का ही हो)अपना लेख लिख दिया !

    उत्तर देंहटाएं
  40. बहुत बहुत बधाई ...सहमत हूँ आपके इस विचार से कि ...
    जग में जाड़ा घाम , कृषक सहे सन्त ऋषि से !
    नहिं कोई व्यवसाय , जगत में बढ़िया कृषि से !!

    उत्तर देंहटाएं
  41. हार्दिक बधाई एवं शुभकामनायें ...!!
    बहुत अच्छा लगा जान कर ...!!

    उत्तर देंहटाएं
  42. bahut bahut shubhkaamnayein dheerendra ji ..aur rachna bhi ati uttam lagi aapki :-)

    मेरी नई कविता पर आपकी उपस्थिति चाहती हूँ Os ki boond: सिलवटें ....

    उत्तर देंहटाएं
  43. बहुत -बहुत बधाइयाँ और शुभकामनाएँ ...

    उत्तर देंहटाएं
  44. हार्दिक धन्यवाद धीरेन्द्र जी ...

    उत्तर देंहटाएं
  45. आपको बहुत बहुत बधाई

    आग्रह है मेरे ब्लॉग मैं भी सम्मलित हो
    jyoti-khare.blogspot.in
    आभार आपका

    उत्तर देंहटाएं
  46. यह विशेषता तो पता ही नहीं थी ...
    बधाई भाई !

    उत्तर देंहटाएं
  47. यह तो बहुत खुशी का समाचार है। मेरी बधाई स्वीकार करें...

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ मेरे लिए अनमोल है...अगर आप टिप्पणी देगे,तो निश्चित रूप से आपके पोस्ट पर आकर जबाब दूगाँ,,,,आभार,