गुरुवार, 21 मार्च 2013

रंगों के दोहे ,

रंगों के दोहे ,

परदेशी के प्यार का ,नया निराला रंग
रंग डूबी चिट्ठियाँ ,भिजवा दी बैरंग   !१!

देखी जब से रंग के ,चहरे पर मुस्कान,
रंग ,कबीरा,जायसी ,रंग हुए रसखान !२!

रंगों की शहनाइयां,गूंजी जिनके द्वार
   उनके घर मेहमान है,अबके सब त्यौहार !३! 

आँखों में कुछ और है,होठो पर कुछ और
अजब प्यार का रंग है,अजब उम्र का दौर !४!

रंग नदी अमराइयां, बच्चे,तितली,फूल
  टेसू ने जब चूम ली,रंग हो गई धूल !५!  

छूकर उनकी उगलियाँ छूकर उनके अंग
रंगों में खुशबू घुली,घुले हवा में रंग !६!


रचनाकार ..... महेश जोशी,

------------------------------------------------------------

बीबी बैठी मायके , होरी नही सुहाय
   साजन मोरे है नही,रंग न मोको भाय.. 
.
उपरोक्त शीर्षक पर आप सभी की रचनाए २५ मार्च तक आमंत्रित है,,,,,
जानकारी हेतु ये लिंक देखे -




60 टिप्‍पणियां:

  1. dheerendra ji mahesh ji ki rachna saajha karne ke liye dher saara shukriya ..padhte padhte hi chehere pe muskan khil gai rango ke dohe padh ke hi mai rang gai bahut sundar aur anokhi rachna :-) badhai aur holi ki bahut bahut shubhkaamnayein :-)
    मेरी नई कविता पर आपकी उपस्थिति चाहती हूँ Os ki boond: सिलवटें ....

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत ही सुन्दर दोहे हैं,होली के रंग में डूबे हुए बेहतरीन प्रस्तुति,आभार.

    उत्तर देंहटाएं
  3. वाह, होली के रंग में रंगे हुये सुंदर दोहे, बहुत शुभकामनाएं.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  4. रंग ,कबीरा,जायसी ,रंग हुए रसखान....
    -----------------------------------------
    जोशी साहब को बहुत-बहुत बधाई...इतनी उम्दा रचना के लिए.... धीरजी आपको भी ....

    उत्तर देंहटाएं
  5. Rangeen holi ki ranginiyat aur khushboo se saraabor ho gayi hai ye post!!
    Mahesh G ko badhai.

    उत्तर देंहटाएं
  6. वाह ! वाह ! होली की अग्रिम शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  7. होली की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ !!
    सादर !!

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत खूब ......होली की अग्रिम शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  9. आती होली देखके, दोहे बने अधीर ।
    रंग भरे उत्साह में,रंग रंगीले धीर ॥

    उत्तर देंहटाएं
  10. छूकर उनकी उगलियाँ छूकर उनके अंग
    रंगों में खुशबू घुली,घुले हवा में रंग !६!

    फाग पर बेहतरीन रचना .

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत ही सुन्दर दोहे हैं ,मुबारक कबूल करें , शुभकामनायें.

    उत्तर देंहटाएं
  12. होली कि छाप छोड़ते सुन्दर दोहे !!.
    आभार !!

    उत्तर देंहटाएं
  13. होली के रंग में रंगे हुये सुंदर दोहे-बहुत सुन्दर

    उत्तर देंहटाएं
  14. बहुत सुंदर रंगों की फुहार जैसी प्रस्तुति होली की अग्रिम बधाई आपको|

    उत्तर देंहटाएं
  15. बहुत सुंदर रंग-बिरंगे दोहे....
    महेश जी और धीरेन्द्र जी
    आप दोनों को होली की शुभ कामनाएं.....
    साभार....


    उत्तर देंहटाएं
  16. होली के रंग में रंगे सुन्दर दोहे... बेहतरीन प्रस्तुति के लिए आभार...

    उत्तर देंहटाएं
  17. रंगों से सराबोर दोहों ने तन मन भिगो दिया ..बहुत सुन्दर!

    उत्तर देंहटाएं
  18. बहुत ही सुन्दर और भावपूर्ण दोहे. शुक्रिया.

    उत्तर देंहटाएं
  19. देखी जब से रंग के ,चहरे पर मुस्कान,
    रंग ,कबीरा,जायसी ,रंग हुए रसखान !२!
    बहुत सुन्दर दोहे ..

    उत्तर देंहटाएं
  20. आँखों में कुछ और है,होठो पर कुछ और
    अजब प्यार का रंग है,अजब उम्र का दौर ..

    प्रेम में सब कुछ जायज है ... बहुत खूब रंगीन दोहे ...

    उत्तर देंहटाएं
  21. देखी जब से रंग के ,चहरे पर मुस्कान,
    रंग ,कबीरा,जायसी ,रंग हुए रसखान !२!
    बहुत खूब !

    उत्तर देंहटाएं
  22. बहुत ख़ूबसूरत रंगीन दोहे...

    उत्तर देंहटाएं
  23. दोहों की पिचकारी से रंगीली फुहारें चला दीं आपने !

    उत्तर देंहटाएं
  24. रंग की फुहार दोहों के रूप में अति सुन्दर |
    होली पर अग्रिम हार्दिक शुभ कामनाएं |
    आशा

    उत्तर देंहटाएं
  25. देखी जब से रंग के ,चहरे पर मुस्कान,
    रंग ,कबीरा,जायसी ,रंग हुए रसखान !२!

    जीवन के रंगों से सराबोर कर दिया

    उत्तर देंहटाएं
  26. होली के रंग में रंगे हुये सुंदर दोहे

    उत्तर देंहटाएं
  27. वाह! बहुत ख़ूब! होली की हार्दिक शुभकामनाएं!

    उत्तर देंहटाएं
  28. बहुत ही सुन्दर दोहे लिखे है महेश जी ने...
    बहुत बढ़ियाँ...
    होली की अग्रिम शुभकामनाएँ....
    :-)

    उत्तर देंहटाएं
  29. रंगों का मौसम... रंग बिखेरती रचना, बधाई.

    उत्तर देंहटाएं
  30. होली के रंग में रंगे खूबसूरत दोहे

    उत्तर देंहटाएं
  31. बहुत ही सुन्दर दोहे लिखे है महेश जी ने...
    बहुत बढ़ियाँ...
    होली की अग्रिम शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  32. बहुत सराहनीय प्रस्तुति.बहुत सुंदर

    ले के हाथ हाथों में, दिल से दिल मिला लो आज
    यारों कब मिले मौका अब छोड़ों ना कि होली है.

    मौसम आज रंगों का , छायी अब खुमारी है
    चलों सब एक रंग में हो कि आयी आज होली है

    उत्तर देंहटाएं
  33. behad rangeen dohe ,kamobes sabhi rango me rage, behatareen sir ji

    उत्तर देंहटाएं
  34. बहुत सुंदर होली के रंगो जैसे ही दोहे ...

    उत्तर देंहटाएं
  35. बहुत सुन्दर जनाब | आपको होली की बहुत बहुत हार्दिक बधाई |

    उत्तर देंहटाएं
  36. होली के रंग रंगे ये अनुपम दोहे .... बहुत ही बढिया।

    उत्तर देंहटाएं
  37. -- सुन्दर दोहे....होली की बधाई

    रंग डूबी चिट्ठियाँ... एक मात्रा कम है ...बुरा न मानो होली है....

    सूनी सब गलिया पडीं,अब कित रंग तरंग |
    बस कविता औ ब्लॉग पर, दिखते होली-रंग ||

    उत्तर देंहटाएं
  38. bahut sunder evam rangeen dohe joshi ji ne likhe hain
    badhai ho
    http://guzarish6688.blogspot.in/2013/03/blog-post_25.html

    उत्तर देंहटाएं
  39. देर से आई इस पोस्ट, पर दोहे चेहरे पर देर से भी हंसी ले आये ।

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ मेरे लिए अनमोल है...अगर आप टिप्पणी देगे,तो निश्चित रूप से आपके पोस्ट पर आकर जबाब दूगाँ,,,,आभार,