शुक्रवार, 31 अगस्त 2012

परिकल्पना सम्मान समारोह की झलकियाँ,,,,




































58 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत बढ़िया झलकियाँ हैं, ब्लॉग परिवार के इतने सारे सदस्यों को एक साथ देखकर बहुत अच्छा लगा ... आभार

    उत्तर देंहटाएं
  2. सुन्दर हैं सभी फोटो......बधाई हो आपको.....इमामबाड़े से लखनऊ की याद ताज़ा हो गई।

    उत्तर देंहटाएं
  3. आप लोगों से मिलना बहुत अच्छा और यादगार अनुभव रहा।
    जिन दो फोटोस मे मैं हूँ उन्हें अपने कंप्यूटर मे सेव कर रहा हूँ।

    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत अच्छी प्रस्तुति!
    इस प्रविष्टी की चर्चा कल शनिवार (01-09-2012) के चर्चा मंच पर भी होगी!
    सूचनार्थ!

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत सुंदर तस्वीरें हैं। बधाई आप सभी विद्व जनों को!

    उत्तर देंहटाएं
  6. मित्र भदौरिया जी , बेहद आकर्षक व सुन्दर चित्र... बहुत - बहुत बधाईयाँ , सम्मान व झलकियाँ दोनों को ..

    उत्तर देंहटाएं
  7. बधाई श्रेष्ठ टिपण्णीकारी के लिए ,चित्रावली मुहैया करवाई आपने इसके लिए तहे दिल से शुक्रिया आपके लेखन में यूं ही निखार आये ,लम्पतियों को रास न आये ....कोई न हडके हडकाए.यहाँ भी पधारें -
    ram ram bhai
    बृहस्पतिवार, 30 अगस्त 2012
    लम्पटता के मानी क्या हैं ?

    उत्तर देंहटाएं
  8. कभी ये लगता है अब ख़त्म हो गया सब कुछ - ब्लॉग बुलेटिन ब्लॉग जगत मे क्या चल रहा है उस को ब्लॉग जगत की पोस्टों के माध्यम से ही आप तक हम पहुँचते है ... आज आपकी यह पोस्ट भी इस प्रयास मे हमारा साथ दे रही है ... आपको सादर आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  9. सुन्दर तस्वीरे...
    आप सभी को बधाई और शुभकामनाए....
    :-)

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत से लोगों से मिलना-जुलना हुआ।

    उत्तर देंहटाएं
  11. मुझे नहीं मालूम था सर की ब्लॉग वालों की दुनिया नेट के बाहर भी है जहां सब एकत्र होतें है |अंतर्राष्ट्रीय हिंदी ब्लागर सम्मलेन एवं परिकल्पना सम्मान समारोह की झलकियाँ दिखाकर आपने सर धन्य कर दिया |बहुत बढियां ,बहुत सुंदर धन्यवाद सर |वर्ष के श्रेष्ठ टिप्पणीकार सम्मान मिलने पर आपको बधाई |

    उत्तर देंहटाएं
  12. वाह भाई मजा आ गया.काश की मै भी होता आप सभी के साथ.दिल में बड़ा ही अरमान है की मै भी अपने देश के हिंदी ब्लोगर्स के साथ कुछ लम्हात बिताता.मगर नसीब.मेरी तरफ से आपको बहुत बहुत बधाई.वाकई आप बेस्ट टिप्पणीकार हैं.

    उत्तर देंहटाएं
  13. सुन्दर तस्वीरे... बधाई और शुभकामनाए..

    उत्तर देंहटाएं
  14. भदौरिया जी आपके सभी चित्र बहुत साफ़ और खूबसूरत आये हैं वहां सभी से मिलकर बहुत अच्छा लगा बस वक़्त की कमी के चलते बाद में सबसे बातें नहीं हो सकी इसका अफ़सोस है आपको हार्दिक आभार बढ़िया पोस्ट है

    उत्तर देंहटाएं
  15. सबको बधाई .... गया तो मैं भी था ...परन्तु एक तो इतनी अफरा-तफरी थी कि... दूसरे मुझे शाम को बेंगलोर निकालना था अतः शीघ्र ही वापस लौट गया....
    --ये बेस्ट टिप्पणी होती क्या है....

    उत्तर देंहटाएं
  16. सुंदर चित्र. इस आयोजन कर्ताओं को भी बधाइयाँ.

    उत्तर देंहटाएं
  17. धीरेन्द्रर जी नमस्का र नेट पर कम आने की वजह से आपके ब्लाdग पर आना नही हुआ है आफिस मे कार्य ज्या दा होने के कारण यह परेशानी हो जाती है इसके लिये क्षमा प्रार्थी हू

    उत्तर देंहटाएं
  18. सभी को...आपको ढेर सारी बधाई...सुंदर चित्र

    उत्तर देंहटाएं
  19. बार बार देखने का मन कर रहा है !

    उत्तर देंहटाएं
  20. वाह ! हम भी है इन झलकियों में :)

    उत्तर देंहटाएं
  21. हार्दिक बधाई व शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  22. वाह जी वाह ... सभी चित्र कहानी कह रहे हैं .. अच्छा लगा आपकी नज़रों से देखना समारोह को ...

    उत्तर देंहटाएं
  23. परिकल्पना सम्मान समारोह की झलकियों में ब्लॉग परिवार के जाने-माने सदस्यों को देख कर बहुत खुशी हुई | आप को श्रेष्ठ टिप्पणीकार पुरस्कार के लिए बधाई |

    गूगल की पेज रैंकिंग कैसे बढाएं ?

    उत्तर देंहटाएं
  24. इस कार्यक्रम में स्वयं शामिल न हो पाने का अफसोस मुझे सदा ही रहेगा। क्यूंकि सभी ब्लोगर मित्रों से मिल पाने का यह स्वर्णिम अवसर मुझे न मिल सका। किन्तु आपको परिकल्पना सम्मान समाहरोह के तहेंत वर्ष के श्रेष्ठ टिप्पणीकार का पुरुस्कार मिलने के उपलक्ष में आपको बहुत बहुत बधाई....

    उत्तर देंहटाएं
  25. यादगार के पल भी बहुत अच्‍छे होते है इन्‍ही के माध्‍यम से हम आगे की जीवन की दिसा निर्धारित करते है

    उत्तर देंहटाएं
  26. खुबसूरत यादों संग शानदार चित्रों की चमक लिए पोस्ट की बधाई .

    उत्तर देंहटाएं
  27. बढ़िया फोटो....
    बहुत बहुत बधाई....आप सभी ब्लोगर्स को....

    सादर
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  28. sunder tasvire post karne ke liye aapka abhar
    aapko bahut bahut badhai ho
    rachana

    उत्तर देंहटाएं
  29. ब्लॉग जगत से जुड़े लोगों को देख कर अच्छा लगा। सुंदर फोटो एवं सुंदर लोग। मेरे नए पोस्ट पर आपका स्वागत है।

    उत्तर देंहटाएं
  30. तस्वीरें बहुत अच्छी हैं। गुरू-चेला को अकेले में खूब पकड़ लिया आपने।:)
    सभी ब्लॉगरों के आनंद की जय हो....

    उत्तर देंहटाएं
  31. सबसे साफ तस्वीरों का कोई समारोहेतर पुरस्कार होता,तो वह भी आपको ही मिलता।

    उत्तर देंहटाएं
  32. सुन्दर प्रस्तुति |

    बधाई धीरेन्द्र जी ||

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. dheerendra2 September 2012 23:08

      काश आपके द्वारा परिकल्पना मंच से सुनने को मिलता,,,,,

      RECENT POST-परिकल्पना सम्मान समारोह की झलकियाँ,
      ReplyDelete
      Replies

      रविकर फैजाबादी2 September 2012 23:31

      करी चिरौरी मिन्नतें, पर रवीन्द्र रजनीश |
      राहु-केतु की उसी दिन, निकली उनपर रीष |
      निकली उनपर रीष, बाम-पंथी की हड़-बड़ |
      हंगल शोक सभा, अतिथियों ने की गड़-बड़ |
      अपनी अपनी सुना, भगे कवि जौ-जौ आगर ।
      पर रविकर व्यक्तव्य, सुने न लम्पट ब्लॉगर ||

      हटाएं
  33. धीरेन्द्रर जी हार्दिक बधाई .....श्रेष्ठ टिप्पणीकार का पुरुस्कार मिलने के उपलक्ष में आपको बहुत बहुत बधाई.... !!

    उत्तर देंहटाएं
  34. आपसे मिलना भी बेहद सुखद रहा. सौभाग्य की बात है की देश भर में पसरे अच्छे लोग एक जगह मिल गए. चित्रावली आकर्षक है. दो जगह मैं भी नज़र आ रहा हूँ. धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  35. आज 4/09/2012 को आपकी यह पोस्ट (विभा रानी श्रीवास्तव जी की प्रस्तुति मे ) http://nayi-purani-halchal.blogspot.com पर पर लिंक की गयी हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  36. इस सचित्र प्रस्‍तुति के लिए बधाई सहित शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ मेरे लिए अनमोल है...अगर आप टिप्पणी देगे,तो निश्चित रूप से आपके पोस्ट पर आकर जबाब दूगाँ,,,,आभार,