मंगलवार, 28 मई 2013

ओ प्यारी लली,

मेरी बेटी दीप्ती, जिसका विवाह 18/5/2013/संपन्न हुआ 
ओ  प्यारी  लली,

 बड़े  नेहों   से  सींचा  फूलों   सी  पली
 छोड़  बाबुल   का  घर  ससुराल  चली,

तुझको  ससुराल  में  प्यार  ऐसा मिले
 याद  आए  न  कभी  बाबुल  की  गली,


मेरी  लाडो  रहे  खुश  ये  दुआ  है मेरी
 बन  के  रहना  हमेशा  मिश्री  की डली,


सबके दिल में तू बसना खुशबू  की तरह
 लगे सबको  तू अपनी  बगिया की कली, 


लाज  रखना सदा  अपने  माँ -बाप की 
नाम  हमारा  बढ़ाना  ओ  प्यारी  लली,
 dheerendra singh bhadauriya,

56 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर दुआ .... ईश्वर आपकी बेटी को सदैव ही खुश रखें !

    उत्तर देंहटाएं
  2. dil se nikli aashishon ki jhadi ......sada khush rahe bitiyarani ....

    उत्तर देंहटाएं
  3. बढ़िया रचना.... बेटी के विवाह की बधाई |

    उत्तर देंहटाएं
  4. beti k vidayee ka dard hota hi pidadayak,hmesa beti sukhi rahe,

    उत्तर देंहटाएं
  5. वाह भोत खुब .....सुन्दर....्बहन सदा खुश र्हे एसी दुआ

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत सुन्दर भावनात्मक अभिव्यक्ति .मन को छू गयी .आभार . छत्तीसगढ़ नक्सली हमला -एक तीर से कई निशाने

    साथ ही जानिए संपत्ति के अधिकार का इतिहास संपत्ति का अधिकार -3महिलाओं के लिए अनोखी शुरुआत आज ही जुड़ेंWOMAN ABOUT MAN

    उत्तर देंहटाएं
  7. दिल को छू गया पिता का सन्देश बेटी नाम
    हमारी तरफ से भी गुडिया को शुभकामनाएं और आशीर्वाद

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत प्यारी रचना ...
    बहुत बहुत बधाई बिटिया को, सस्नेह !

    उत्तर देंहटाएं
  9. लाज रखना सदा अपने माँ -बाप की
    नाम हमारा बढ़ाना ओ प्यारी लली,
    बिटिया हमेशा इसी कोशिश में जिंदगी होम कर देती है
    बिटिया को ढेरों शुभकामनाएं और अनेकों आशीर्वाद
    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत सुन्दर | ईश्वर आपकी बेटी को सदैव ही खुश रखें |

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
    आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टि की चर्चा आज बुधवार (29-05-2013) बुधवारीय चर्चा ---- 1259 सभी की अपने अपने रंग रूमानियत के संग .....! में "मयंक का कोना" पर भी है!
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    उत्तर देंहटाएं
  12. बिटिया को नयी जिंदगी की बहुत बहुत शुभकामनायें !!

    उत्तर देंहटाएं
  13. हमारी तरफ से भी बिटिया को शुभकामनाएं और आशीर्वाद,शुभ संदेश.

    उत्तर देंहटाएं
  14. सुंदर भाव !
    बिटिया को उसके सुखी और दीर्घ वैवाहिक जीवन के लिये समस्त शुभकामनाऎं !

    उत्तर देंहटाएं
  15. बीते तेरे जीवन की घड़ियाँ
    आराम की ठंडी छावों में
    काँटा भी न चुभने पाये कभी
    मेरी लाडली तेरे पाँवों में

    बिटिया को शुभ-आशीष...

    उत्तर देंहटाएं
  16. बिटिया के विदा होने के बाद पिता के यही उदगार हो सकते हैं, बहुत सुंदर ढंग से लिखी रचना, बिटिया को बहुत स्नेहिल शुभकामनाएं व शुभाशीर्वाद.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  17. सबके दिल में तू बसना खुशबू की तरह
    लगे सबको तू अपनी बगिया की कली,

    संवेदना भरी बेटी को विदाई
    बिटिया को असीम स्नेह

    उत्तर देंहटाएं
  18. बेटियों की विदाई पर ऐसे ही भाव हर पिता के होते हैं ! सुन्दर रचना लिखी है आपने !!
    आपने शादी की जो तारीख लिखी है उसमें 18/5/1913 लिखा है जो शायद 2013 जगह 1913 लिख दिया है !!

    उत्तर देंहटाएं
  19. बेटी के विवाह की ढेरों शुभकामनायें.......ईश्वर सदा खुश रखे।

    उत्तर देंहटाएं
  20. बिटिया को ढेर सी शुभकामनाएं और स्नेहाशीष.......
    रानी बेटी राज करेगी.....

    सादर
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  21. बिटिया को हार्दिक शुभकामनायें और आशीष...

    उत्तर देंहटाएं
  22. एक भाई की तरफ से बहन को विवाह की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं।

    उत्तर देंहटाएं
  23. मेरी लाडो रहे खुश ये दुआ है मेरी
    बन के रहना हमेशा मिश्री की डली,..

    बेटियां ऐसी ही होती हैं ... चली जाती हैं घर से पर दिल से नहीं ..

    उत्तर देंहटाएं
  24. वाह.बहुत उम्दा प्रस्तुति .बेहतरीन

    उत्तर देंहटाएं
  25. मेरी लाडो रहे खुश ये दुआ है मेरी
    बन के रहना हमेशा मिश्री की डली,

    सबके दिल में तू बसना खुशबू की तरह
    लगे सबको तू अपनी बगिया की कली,
    बहुत - बहुत शुभकामनाएँ ... भावमय करते शब्‍द
    आभार

    उत्तर देंहटाएं
  26. बिटिया रानी को ख़ूब-ख़ूब आशीर्वाद और उस के सुखमय दाम्पत्य जीवन के लिए मंगल-कामनाएँ
    धीरेन्द्र जी इस भूतल पर आप का आना सुकार्थ हुआ,

    उत्तर देंहटाएं
  27. सर पहले तो बेटी के विवाह की हार्दिक बधाई और ईश्वर से यही प्रार्थना है कि बहना अपने परिवार में सदैव प्रसन्नचित रहे |..........'मेरी लाडो रहे खुश ये दुआ है मेरी
    बन के रहना हमेशा मिश्री की डली',....बहुत ही सुंदर भावपूर्ण abhivaykti

    उत्तर देंहटाएं
  28. बेटी के विवाह की ढेरों शुभकामनायें...................उसके सुखमय दाम्पत्य जीवन के लिए मंगल-कामनाएँ...............

    उत्तर देंहटाएं
  29. बहुत सुन्‍दर और सार्थक रचना

    उत्तर देंहटाएं
  30. लगे सबको तू अपनी बगिया की कली,

    संवेदना भरी बेटी को विदाई ......मन को छू गयी

    उत्तर देंहटाएं
  31. नमस्कार !
    जरूरी कार्यो के ब्लॉगजगत से दूर था
    आप तक बहुत दिनों के बाद आ सका हूँ

    उत्तर देंहटाएं
  32. ढेरों शुभकामनायें....ढेरों शुभकामनायें....ढेरों शुभकामनायें....

    उत्तर देंहटाएं
  33. सबके दिल में तू बसना खुशबू की तरह
    लगे सबको तू अपनी बगिया की कली,

    अपने जिगर के टुकड़े को लोग वाकई कैसे विदा करते होंगे .दुःख होता है लेकिन तब भी इन पंक्तियों का संदेश हिन्दुस्तानी संस्कृति का सम्बाहक बनता है .सुंदर रचना

    उत्तर देंहटाएं
  34. बहुत सुन्दर . बिटिया हमेशा खुश रहे यही दुआएं हैं हमारी !

    उत्तर देंहटाएं
  35. हमारी ओर से भी हार्दिक बधाई ....

    उत्तर देंहटाएं
  36. बहुत सुन्दर रचना ....हर बाबुल की यही दुआ होती है की उसकी बेटी को हर ख़ुशी -सुख मिले और मेरी भी यही कामना है बिटिया को

    उत्तर देंहटाएं
  37. सुन्दर कविता, आभार !

    www.safarhainsuhana.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  38. bahut sundar abhivyakti ...hardik badhai ,shubhkamnayen evam bitiya ko shubhashiish .

    उत्तर देंहटाएं
  39. सबसे पहले तो आपको बेटी के विवाह की बहुत बधाई और रचना बहुत खूबसूरत

    उत्तर देंहटाएं
  40. सबसे पहले तो आपको बेटी के विवाह की बहुत बधाई और रचना बहुत खूबसूरत

    उत्तर देंहटाएं
  41. लाज रखना सदा अपने माँ -बाप की
    नाम हमारा बढ़ाना ओ प्यारी लली

    प्रत्येक माता-पिता की यह कामना पूर्ण हो।
    सौभागयवती दीप्ति को अशेष आशीर्वाद और मंगलकामनाएं।

    उत्तर देंहटाएं
  42. आदरणीय धीरेन्द्र जी ,आपको बहुत-बहुत बधाई । कन्या को जन्म देना, स्नेहमय पालन के साथ सुशिक्षित व सुयोग्य बना कर ही किसी को सौंपने से बडा समाजहित कुछ नही । शायद इसी लिये कन्यादान से बडा दान कुछ नही । प्रिय दीप्ति को अनन्त खुशियाँ मिलें ।

    उत्तर देंहटाएं
  43. bahut bahut shubhamnayen ek naye jeevan ke aarabh ke liye...baat dil se nikli hai to dil tak jayegi hi !

    उत्तर देंहटाएं
  44. बहुत ही सुन्दर रचना...
    दीदी को शुभकामनाएँ ....
    इसी दिन मेरा भी विवाह था इसलिए ब्लॉग पर नहीं आ पाई पर अब से आउंगी...
    :-)

    उत्तर देंहटाएं
  45. बहुत बधाई धीर जी । बेटी को शुभ और दीर्घ वैवाहिक जीवन के लिये शुभ कामनाएं ।

    उत्तर देंहटाएं
  46. आँखे भर आयीं पढ़ते -पढ़ते...
    ...........अशेष शुभकामनाये नव दंपत्ति को..!!

    उत्तर देंहटाएं
  47. बाबुल का स्नेह और आशीर्वाद हर बेटी का प्राप्य..... जिसके सहारे वह हर मुश्किल को आसान बना लेती है.....लली के सुखी और स्वर्णिम भविष्य के लिए हमारी भी शुभकामनाएँ और दुआएँ !

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ मेरे लिए अनमोल है...अगर आप टिप्पणी देगे,तो निश्चित रूप से आपके पोस्ट पर आकर जबाब दूगाँ,,,,आभार,