मंगलवार, 13 नवंबर 2012

दीपों का यह पर्व,,,





.दीपों का यह पर्व.
 
दीपक करने आ गए,धरती पर उजियार
आलोकित संसार है, भाग रहा अंधियार.

उजलापन यह कह रहा,मन में भर आलोक
खुशियाँ बिखरेगी सतत,जगमग होगा लोक.


दीपक नगमे गा रहे,मस्ती रहे बिखेर
सबके हिस्से है खुशी,हो सकती है देर.

छत पर उजियारा पला,रौशंन हुई मुडेर
या खुद लक्ष्मी आयेगी,या उसको ले टेर,


जगमग सारा जग हुआ,नगरऔर हर गाँव
संस्कार की जय हुई,मिली नेह को ठांव.

अंतर्मन उजला हुआ,दीपों का यह पर्व
हर इंसा अब कर रहा,आज स्वमं पर गर्व,


सत्य आज फिर पल रहा,धर्म करे जयघोष
अहंकार मत पालना,वरना खुद का दोष,

उजियारा इक भाव है,उजियारा गुणधर्म
उजियारे से प्रगति है,समझो प्रियवर मर्म.


आलोकित संसार में,हरदम पलता प्यार
उजलेपन से ही सदा,जीवन पाता सार,

दीपों की यह है कथा,जीवन में उजियार
संघर्षो के पथ रहो, कभी न मानो हार,

13/11/2012/
 *** दीपावली की हार्दिक शुभकामनाये *** 
"धीरेन्द्र  सिंह भदौरिया "



47 टिप्‍पणियां:

  1. दीपावली की बहुत बहुत शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  2. सुंदर दोहे...
    दीपावली की अनंत शुभकामनाएँ!!!

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुन्दर प्रस्तुति..आप को भी दीपावली की बहुत बहुत शुभकामनाएँ..

    उत्तर देंहटाएं
  4. सुन्दर जगमगाते दोहे।
    दिवाली की हार्दिक शुभकामनायें धीरेन्द्र जी।

    उत्तर देंहटाएं
  5. आपके इस प्रविष्टि की चर्चा कल बुधवार के (14-12-2012) चर्चा मंच पर भी होगी । जरुर पधारें ।
    सूचनार्थ ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. बेहतरीन!!

    आप और आपके परिवार को दीपावली की अनेक मंगलकामनाएँ....
    -समीर लाल ’समीर’

    उत्तर देंहटाएं
  7. दीपक आ गए अँधियारा हटाने....
    उल्लास और उजास के पर अपनी देहलीज पर एक दीपक हमारा भी स्वीकार करें...

    उत्तर देंहटाएं
  8. मंगलमय हो दीपों का त्यौहार... आपको व आपके समस्त परिवार को दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें.......

    उत्तर देंहटाएं
  9. दीपों की यह है कथा,जीवन में उजियार
    संघर्षो के पथ रहो, कभी न मानो हार,
    bahut sundar ....

    उत्तर देंहटाएं
  10. दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  11. दीपावली की अनंत शुभकामनाएँ!!
    नया पोस्ट.. प्रेम सरोवर पर देखें।

    उत्तर देंहटाएं
  12. दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं ...सुन्दर रचना ....



    उत्तर देंहटाएं
  13. दीपोत्सव की हार्दिक शुभ कामनाएँ!
    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  14. जुबानी भी और लिखित भी दीपावली की मुबारक बाद कबूल करें।

    उत्तर देंहटाएं
  15. दिवाली को सार्थक करते सौदेश्य दोहे कलात्मक और काव्य पक्ष से संसिक्त .बधाई .दिवाली मुबारक .

    सौहाद्र का है पर्व दिवाली ,

    मिलजुल के मनाये दिवाली ,

    कोई घर रहे न रौशनी से खाली .

    हैपी दिवाली हैपी दिवाली .

    वीरुभाई

    उत्तर देंहटाएं



  16. ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
    ♥~*~दीपावली की मंगलकामनाएं !~*~♥
    ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
    सरस्वती आशीष दें , गणपति दें वरदान
    लक्ष्मी बरसाएं कृपा, मिले स्नेह सम्मान

    **♥**♥**♥**● राजेन्द्र स्वर्णकार● **♥**♥**♥**
    ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ

    उत्तर देंहटाएं
  17. मन के सुन्दर दीप जलाओ******प्रेम रस मे भीग भीग जाओ******हर चेहरे पर नूर खिलाओ******किसी की मासूमियत बचाओ******प्रेम की इक अलख जगाओ******बस यूँ सब दीवाली मनाओ

    दीप पर्व की आपको व आपके परिवार को ढेरों शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  18. आप सबको सपरिवार दीपावली शुभ एवं मंगलमय हो। अंग्रेजी कहावत है -A healthy mind in a healthy body लेकिन मेरा मानना है कि "Only the healthy mind will keep the body healthy ."मेरे विचार की पुष्टि यजुर्वेद क़े अध्याय ३४ क़े (मन्त्र १ से ६) इन छः वैदिक मन्त्रों से भी होती है .

    http://krantiswar.blogspot.in/2012/11/2-2010-6-x-4-t-d-s-healthy-mind-in.html

    उत्तर देंहटाएं
  19. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
    --
    ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
    ♥~*~दीपावली की मंगलकामनाएं !~*~♥
    ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ

    उत्तर देंहटाएं
  20. दीवाली के पर्व पर , दोहों की सौगात

    दुल्हन जैसी सज गई , आज अमावस रात

    आज अमावस रात, मिटा मन का अंधियारा

    भ्राता श्री धीरेंद्र , लुटाते हैं उजियारा

    भावों की ये छटा , लग रही बड़ी निराली

    पहली प्रस्तुति कहे, सभी को "शुभ- दीवाली" ||

    उत्तर देंहटाएं
  21. लक्ष्मी जी सुख के दिये, लेकर आयीं द्वार|
    आलोकित अंतस करे,हर दिल उपजे प्यार||
    भाई धीरेन्द्र जी आपके दोहों ने दीवाली की मिठाई खिला दी हमें
    हार्दिक बधाई

    ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
    ♥~*~दीपावली की मंगलकामनाएं !~*~♥
    ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ

    उत्तर देंहटाएं
  22. दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें.....

    उत्तर देंहटाएं
  23. उम्मीद की चेतना का संचार करते बेहतरीन दोहे .... आभार
    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं .....

    उत्तर देंहटाएं
  24. उजियारा इक भाव है........................................nice
    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं .....
    sadar
    suman

    उत्तर देंहटाएं
  25. इस मंगल पर्व पर

    बहुत बहुत शुभकामनाये ।

    सुन्दर प्रस्तुति ।।

    उत्तर देंहटाएं
  26. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...
    आपको सहपरिवार दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ...
    :-)

    उत्तर देंहटाएं
  27. ***********************************************
    धन वैभव दें लक्ष्मी , सरस्वती दें ज्ञान ।
    गणपति जी संकट हरें,मिले नेह सम्मान ।।
    ***********************************************
    दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं
    ***********************************************
    अरुण कुमार निगम एवं निगम परिवार
    ***********************************************

    उत्तर देंहटाएं
  28. सुन्दर प्रस्तुति...दीपों की यह है कथा,जीवन में उजियार
    संघर्षो के पथ रहो, कभी न मानो हार,दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें.....


    उत्तर देंहटाएं
  29. मन में उजास भरते बहुत ही सुंदर दोहे । बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  30. बहुत सुंदर...........दीपावली की शुभकामनाएं............

    उत्तर देंहटाएं
  31. दीपों की यह है कथा,जीवन में उजियार
    संघर्षो के पथ रहो, कभी न मानो हार,
    bahut sunder aapko deep parv ki bahut bahut shubhkamnayen
    rachana

    उत्तर देंहटाएं
  32. बहुत सुन्दर प्रस्तुति..आप को भी दीपावली की बहुत बहुत शुभकामनाएँ..

    उत्तर देंहटाएं
  33. सुन्दर प्रस्तुति..........आपको भी ज्योति पर्व दीपावली एवं भैया दूज की ढेरों बधाइयाँ एवं शुभकामनाएं !

    उत्तर देंहटाएं
  34. बहुत सुन्दर रचना . .
    मेरी नई रचना; दीप की दुआएं '' "हम बच्चे भारत के "

    उत्तर देंहटाएं
  35. सुंदर भावों में पिरोई गई आपकी रचना अच्छी लगी । मेरा नए पोस्ट बहती गंगा पर आप आमंत्रित हैं । धन्यवाद।

    उत्तर देंहटाएं
  36. बहुत अद्भुत अहसास...सुन्दर प्रस्तुति ..आपका ब्लॉग देखा मैने और नमन है आपको और बहुत ही सुन्दर शब्दों से सजाया गया है लिखते रहिये और कुछ अपने विचारो से हमें भी अवगत करवाते रहिये. मधुर भाव लिये भावुक करती रचना,,,,,,
    ...

    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाये आपको और आपके समस्त पारिवारिक जनो को !

    मंगलमय हो आपको दीपो का त्यौहार
    जीवन में आती रहे पल पल नयी बहार
    ईश्वर से हम कर रहे हर पल यही पुकार
    लक्ष्मी की कृपा रहे भरा रहे घर द्वार..

    उत्तर देंहटाएं
  37. उजियारा इक भाव है,उजियारा गुणधर्म
    उजियारे से प्रगति है,समझो प्रियवर मर्म... बहुत सुन्दर भाव

    उत्तर देंहटाएं
  38. दीपक नगमे गा रहे,मस्ती रहे बिखेर
    सबके हिस्से है खुशी,हो सकती है देर.

    बढ़िया दोहे

    उत्तर देंहटाएं
  39. बहुत अच्छी रचना दीपों के इस पर्व पर ..
    दीपावली की आपको भी हार्दिक शुभकामनाएं ..
    सादर
    मधुरेश

    उत्तर देंहटाएं
  40. आप और आपके परिवार को दीपावली की अनेक मंगलकामनाएँ..

    उत्तर देंहटाएं
  41. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ मेरे लिए अनमोल है...अगर आप टिप्पणी देगे,तो निश्चित रूप से आपके पोस्ट पर आकर जबाब दूगाँ,,,,आभार,