शुक्रवार, 25 नवंबर 2011

शब्द.....

.


शब्द...

तुम्हारे अनकहे शब्द
बेचैन कर देते है.
स्व-विवेकाधिकार है शब्द
भावनुसार क्रम देने से बनते है;

जिन्दगी की सारी हलचल है शब्द
मन को दूसरे जगह ले जाते है,
शुद्ध सात्विक भाव के सुंदर शब्द
नाभि,ह्रदय,और आशाचक्र ,को जगाते है;

मन्त्र की तरह पूजा जाता है शब्द
यथार्थ को बदलने की शक्ती होते है,
जुवान से निकले वापस नहीं होते है शब्द
अपमान घृणा और तिरस्कार कराते है;

शरीर में आघातमन पहुचातें है शब्द
जीवन व्योहार का अभिन्न अंग है,
कितने छलशील होते है शब्द
झूठ छल,फरेब,धोखा,कराते है;

व्योहार का कारण बनाता है शब्द
अपने मुकाम तक पहुचता है,
कितने सुंदर अनमोल होते है शब्द
मीठा बोल कर अपने साथ जाता है;

भूख -प्यास है शब्द
शब्द बनाते-बिगाड़ते है,
जादूगरी बोल भरे शब्द
सत्य की परिभाषा बदल देते है;

नेताओ के भाषण की कला है शब्द
शब्द आज सत्ता का सोपान बन गये है,
दोस्ती और रिश्ते का दायरा बढाते है शब्द
अन्ना गांधी को मंजिल तक पहुचाया है;

मन का आइना होते है शब्द
शब्द कविता को आकार देते है,
आग लगा सकते है शब्द
शब्द आग बुझा सकते है;

दुनिया को जीत सकते है शब्द
शब्द अपराध झगड़े कराते है,
मानसिक प्रताडना पहुचाते है शब्द
शब्द बिगड़ी हुई बात बनाते है;

घायल मन को टीस देते है शब्द
शब्द आपका व्यक्तित्व बनाता है,
संस्कार कैसे है दर्शाता है शब्द
अनुशासन से रहना सिखाता है;

मान -प्रतिष्ठा बढाते है शब्द
शब्द वातावरण को महकाते है,
घर की खुशियाँ बाटते है शब्द
शब्द मंजिल तक पहुंचाते है,

अर्थ का अनर्थ कर देते है शब्द
थोड़े सावधानी बरतने पड़ते है,
शब्दों की अति, बन जाते है अपशब्द
मन आवेशित हो तो, हो जाइये निशब्द,

शब्द शक्ति है,शब्द भाव है.
शब्द सदा अनमोल,
शब्द बनाये शब्द बिगाडे.
तोल मोल के बोल,

मेरी शक्ति ही है मेरे शब्द.......
=================
---------dheerendra...


50 टिप्‍पणियां:

  1. शब्द शक्ति है,शब्द भाव है, शब्द सदा अनमोल
    शब्द बनाए,शब्द बिगाड़े , तोल मोल कर बोल.

    बहुत सुंदर अभिव्यक्ति.

    उत्तर देंहटाएं
  2. तुम्हारे अनकहे शब्द
    बेचैन कर देते है शब्द


    Aapke shabd nishabd kar rahein hain...

    उत्तर देंहटाएं
  3. शब्दों के बिना दुनिया ही अधूरी है।
    बहुत अच्छा लिखे हैं सर!

    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  4. शब्‍दों का एक विस्‍तृत संसार ... बेहतरीन प्रस्‍तुति ।

    उत्तर देंहटाएं
  5. शब्द , शब्द अति सुन्दर . सबकी शक्ति है यही शब्द . उत्तम रचना के लिए बधाई.

    उत्तर देंहटाएं
  6. जिन्दगी की सारी हलचल है शब्द
    मन को दूसरे जगह ले जाते है शब्द

    शब्दों क अपना संसार होता है .....अक्षरों से बनते हैं शब्द और अर्थ संप्रेषित करते हैं हम तक पहुंचाते हैं दूसरों की भावनाओं को वैसे अक्षर साधना है . जाने यहाँ

    उत्तर देंहटाएं
  7. शब्दों से रची ...शब्दों में बसी इस रचना के लिए आभार

    उत्तर देंहटाएं
  8. गहरे भाव और अभिव्यक्ति के साथ बहुत सुन्दर रचना लिखा है आपने जो सराहनीय है!

    उत्तर देंहटाएं
  9. शब्द शब्द हैं- सुनो तो कान की बाली बोलो तो निकले गाली :)

    उत्तर देंहटाएं
  10. ---सब सही है ...शब्द-शब्द सुन्दर है ,सुन्दर व भाव मयी रचना...
    ----परन्तु....’शब्द’ ..शब्द का बार बार आना, काव्य कला व सौन्दर्य में , प्रवाह, लय व गति में बाधा उत्पन्न कर रहा है....देखिये ..इसीको गति व लय में...

    "तुम्हारे अनकहे शब्द,
    बैचेन कर देते हैं ।
    शब्द स्व-विवेकाधिकार है ,
    भावानुसार क्रम देने से बनते हैं।

    ज़िन्दगी की सारी हलचल हैं शब्द,
    मन को दूसरी जगह लेजाते है;
    नाभि, ह्रद्य और आशाचक्र को जगाते हैं,
    शुद्ध सात्विक भाव के सुन्दर शब्द ।"....इसी प्रकार....

    -----आपका ब्लोग शीर्षक "काव्यान्जली" भी अशुद्ध है....काव्यान्जलि...होना चाहिये....

    उत्तर देंहटाएं
  11. अक्षर अक्षर जोड़ के देखो
    शब्द कई बन जाते है ....
    यही शब्द ओठों पर आ कर
    भाव व्यक्त कर जाते है ...
    बहत अच्छी रचना

    उत्तर देंहटाएं
  12. shabdo ke bina to bhav vyakt karana muskil hai...
    shabdo ka istmal bhi bahut hi soch samajhkar karana chahiye...
    ati uttam rachana hai...

    उत्तर देंहटाएं
  13. प्रिय धीरेन्द्र जी शब्द पर आप ने ये पुल बाँध दिया रामेश्वरम सा ..सुन्दर गंगा की धारा..पावन ..शब्द कुछ भी करने में सक्षम हैं ..इस से चाहे किसी का दिल जीत लें चाहे पिटाई करा लें खुद की ..गजब
    बधाई हो ...प्रिय धीरेन्द्र जी शब्द पर आप ने ये पुल बाँध दिया रामेश्वरम सा ..सुन्दर गंगा की धारा..पावन ..शब्द कुछ भी करने में सक्षम हैं ..इस से चाहे किसी का दिल जीत लें चाहे पिटाई करा लें खुद की ..गजब
    बधाई हो ...
    भ्रमर ५
    कृपया जबान को और आकार आदि को ठीक कर दें
    भ्रमर ५

    मन का आइना होते है शब्द
    कविता को आकर देते है शब्द
    आग लगा सकते है शब्द
    आग बुझा सकते है शब्द
    दुनिया को जीत सकते है शब्द

    उत्तर देंहटाएं
  14. धीरेन्द्र जी बहुत अच्छा लिखते हैं आप | परन्तु आप शब्दों के उच्चारण की और भी ध्यान दीजिए जैसे : बहुत जगह पर आपने है लिखा है वहाँ पर हैं होना चाहिए | जवान से की जगह जुबान या जुबां होना चाहिए | आघात पहुचाते की जगह आघात पहुंचाते होना चाहिए | ऐसी ही छोटी-छोटी बातों की और ध्यान दें |

    टिप्स हिंदी में

    उत्तर देंहटाएं
  15. Dheerendra ji..

    Aaj pahli baar aapke blog par aaya hun aur aapke Shabdon se ru-b-ru hua hun.. Aaj hi aapka anusarankarta bhi bana hun...

    Shabd na hote, to na kabhi bhi...
    Kavitayen koi likhta...
    Man ke bhavon ko fir kaise..
    Koi kisi se fir kahta..

    Sashakt rachna..

    Deepak..

    उत्तर देंहटाएं
  16. वाह ! क्या बात है आप ने तो शब्द पर ही इतने शब्द लिख दिए ,आखिरी पंक्ति बहुत ही सशक्त है ...मेरी शक्ति ही है मेरे शब्द.... बधाई स्वीकारें

    उत्तर देंहटाएं
  17. बहुत सुंदर शब्दों में लिखी गई रचना.

    उत्तर देंहटाएं
  18. शब्दों की अति, बन जाते है अपशब्द
    मन आवेशित हो तो, हो जाइये निशब्द;
    मेरी शक्ति ही है मेरे शब्द.......
    =================

    सच ही शब्दों में बहुत शक्ति निहित होती है ..सुन्दर रचना

    उत्तर देंहटाएं
  19. शब्द के ऊपर आपने तो आख्यान ही रच डाला है। बहुत सही भाव है सारे शब्दों के।

    उत्तर देंहटाएं
  20. शब्द गुँजते हैं...शब्द शक्तिमान हैं...

    उत्तर देंहटाएं
  21. शब्द का बेहद सुंदर वर्णन। इस सार्थक प्रस्तुति के लिए बधाई।

    टी0वी0100 ब्लॉग पर आपका स्वागत है।

    http://tv100news4u.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  22. शब्दों से शब्द शक्ति की व्याख्या बहुत बढ़िया बन पड़ी है.

    उत्तर देंहटाएं
  23. मन का आइना होते है शब्द
    शब्द कविता को आकार देते है,
    आग लगा सकते है शब्द
    शब्द आग बुझा सकते है;
    shabd jalate hain , shabd hi rahat dete hain

    उत्तर देंहटाएं
  24. कल्पनाओं को हकीक़त का जामा भी पहनाते हैं ये शब्द.. बेहद सुंदर करती धीरेन्द्र जी..

    उत्तर देंहटाएं
  25. हर तरफ शब्द ही शब्द बिन शब्द सब सून....

    उत्तर देंहटाएं
  26. मन का आइना होते है शब्द
    शब्द कविता को आकार देते है,
    आग लगा सकते है शब्द
    शब्द आग बुझा सकते है;

    bahut achchi prastuti!

    उत्तर देंहटाएं
  27. मन का आइना होते है शब्द
    शब्द कविता को आकार देते है,
    आग लगा सकते है शब्द
    शब्द आग बुझा सकते है;

    दुनिया को जीत सकते है शब्द
    शब्द अपराध झगड़े कराते है,
    मानसिक प्रताडना पहुचाते है शब्द
    शब्द बिगड़ी हुई बात बनाते है;


    शब्दों की अति, बन जाते है अपशब्द
    मन आवेशित हो तो, हो जाइये निशब्द;


    antim panktiyon mein poori kavita ka saar hai...insaan itna bhi kar le jaaye to jeevan safal hai....!!
    lekin kuchh log munh mein unglee daal kar bulvaane kee kala bhi jante hain...unke sath kitnee der tak nishabd koi rahe....!!

    khoobsoorat aur prerak rachna...

    उत्तर देंहटाएं
  28. शब्द शक्ति को बहुत अच्छी तरह बखान किया है आ पने, बधाई!

    उत्तर देंहटाएं
  29. शब्दों की अति, बन जाते है अपशब्द
    मन आवेशित हो तो, हो जाइये निशब्द;bahut hi achcha.

    उत्तर देंहटाएं
  30. बहुत खूब !अच्छा उद्बोधन तारतम्य लिए हैं तमाम शब्द ,ये जीवन भी चलता है शब्दों के इर्द गिर्द पल प्रति -पल -हर -पल .

    उत्तर देंहटाएं
  31. शब्दों की मशाल से अप्रतिम रौशनी होती है!
    सुन्दर शब्द गाथा!

    उत्तर देंहटाएं
  32. मन आवेशित हो तो, हो जाइये निशब्द.
    ekdam sahi baat.....

    उत्तर देंहटाएं
  33. अनकहे शब्द बहुत गहरे होते हैं ! दिल में कहाँ तक उतर जाएँ उसकी थाह नहीं है !
    सुंदर रचना बहुत आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  34. सही शब्दों का प्रयोग हमें कहाँ से कहाँ पहुंचा देता है |बहुत सुन्दर विवेचना की है शब्द की |अच्छी रचना |बधाई |
    आप मेरे ब्लॉग पर आए बहुत अच्छा लगा |ऐसा ही स्नेह बनाए रखें |
    आशा

    उत्तर देंहटाएं
  35. मान -प्रतिष्ठा बढाते है शब्द
    शब्द वातावरण को महकाते है,
    घर की खुशियाँ बाटते है शब्द
    शब्द मंजिल तक पहुचाते है;

    एक चिर-शाश्वत सत्य से परिचित करती आपकी कविता "शब्द" अपनी पूर्ण समग्रता में अच्छी लगी । मेरे पोस्ट पर आने के लिए धन्यवाद ।

    उत्तर देंहटाएं
  36. विचार से शब्द बनते हैं मगर शब्द अणु की तरह ही है जो नष्ट नहीं किये जा सकते .प्रेम के दौ बोल में जगत का सुख छिपा है जिसके आगे सब पदार्थ फीके हैं .आपने सार्थक सन्देश दिया जीवन को सुख से
    जीने का

    उत्तर देंहटाएं
  37. Nice lines on significance of words. I have also written a poem on words in hindi and also in english

    उत्तर देंहटाएं
  38. मन्त्र की तरह पूजा जाता है शब्द
    यथार्थ को बदलने की शक्ती होते है

    shabd ke bhaav ko lekar
    kahi gaee shabdawali
    bahut prabhavshali bn padi hai ...

    उत्तर देंहटाएं
  39. मन आवेशित हो तो, हो जाइये निशब्द
    शब्द थोडे थोडे सावधानी से बरतने होते हैं ।
    अर्थ का अनर्थ कर सकते हैं शब्द ।
    बहुत सुंदर प्रस्तुति ।

    उत्तर देंहटाएं
  40. मन के भावों को अकार देते हैं शब्द...बहुत सुन्दर अभिव्यक्ति...

    उत्तर देंहटाएं
  41. आपने शब्द के बारे में बहुत ही अच्छे तरीके से समझाया है।

    उत्तर देंहटाएं
  42. शब्दों की अपनी अगल ही दुनिया हैं .....

    उत्तर देंहटाएं
  43. शब्द कभी आघात हैं, तो शब्द कभी आराम
    शब्द से बिगडते अगर तो शब्द से ही बनते काम
    बहुत अच्छे से अपने शब्दों का बखान किया..........

    उत्तर देंहटाएं
  44. Sunder rachna padh kar bahut accha laga shabd sabse bade hathiyar hain ..
    Mere blog par aane ka bahut bahut dhanyawaad...

    उत्तर देंहटाएं
  45. वाह..........शब्दों की महत्ता इतने अच्छे शब्दों में...आनंद आया पढ़ने में.

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियाँ मेरे लिए अनमोल है...अगर आप टिप्पणी देगे,तो निश्चित रूप से आपके पोस्ट पर आकर जबाब दूगाँ,,,,आभार,